ट्रेंडिंग न्यूज़ बोल वचन खास वीडियो

VIRAL VIDEO : मेरी औक़ात एक ठेला हटवाने की है, यही मेरा पहला प्यार है मालिक…एक एसपी ने क्यों कही यह बात? देखें video

प्रकाश कुमार पाण्डेय

नवादा/बिहार. अधिकारी अगर मन में ठान लिए कि कुछ करना है तो फिर क्या मजाल जो कोई काम अधूरा रह जाए. अक्सर अक्सर ट्रैफिक के मामले पर हथियार डालने वाले अधिकारी बहुत मिल जाएंगे लेकिन ट्रैफिक की समस्या को जनपद की पहली समस्या मानकर उसका हल निकालने वाले अधिकारी बहुत कम ही मिलते हैं ऐसे ही एक अधिकारी का वीडियो इन दिनों खूब वायरल हो रहा है. नवादा जिले के एसपी प्रंतोष कुमार सिंह ट्रैफिक की समस्या को खत्म करने के लिए खुद ही सड़क पर उतरे.पहले तो लगा कि किसी फ़िल्म की शूटिंग चल रही है लेकिन जल्द ही पूरी हकीकत बयां हो जाती है. एसपी ने जिस अंदाज में मीडिया से बात की वह कोई मंझा हुआ कलाकार ही कर सकता है. उन्होंने ट्रैफिक को लेकर जो कुछ भी कहा हमने शब्दों में और उनकी वीडियो आपके साथ साझा की है. आप भी जानिए कि उन्होंने क्या कहा और वीडियो देखकर ट्रैफिक की समस्या के हल का तरीका कैसे खोजा जा सकता है? जानिए क्या बोले…

“एक्शन क्या करेंगे यार.हम पुलिस हैं. ट्रैफिक भी देखना है. ट्रैफिक एसेर्टज एवरीबॉडी व्हिच इज पैरामाउंट. सबसे पहले ट्रैफिक ही लोगों को इफ़ेक्ट करता है और मैं तो ट्रैफिक एसपी था पटना में और अशोक राजपथ से लेके गांधी सेतु तक, जो गांधी सेतु लोग 4 घंटे में पार नहीं कर पाते थे उसको 20 मिनट में मैंने पार करा दिया. मेरे में पुल बनाने की ताकत नहीं है. पुल तो सरकार बनाएगी, बड़े-बड़े अधिकारी बनाएंगे, मेरी औकात ठेला हटाने भर की है. सरकार अगर पुल बना भी देगी और उसका मुंह हम ठेला से जाम करायेंगे तो ट्रैफिक चलेगा यार, नहीं चलेगा.गांधी सेतु पर क्या किया मैंने लैंन ड्राइविंग कराया और गांधी सेतु कनेक्ट हो गया. तो… बस चौक है जैसे यह चौक प्रजातंत्र चौक है. हमने डिफाइन कर दिया. आदमी लगा दिया, इसमें सो गज तक सौ दो सौ गज़ जो भी है कोई ऑटो टोटो का ठहराव नहीं होगा, अगर होगा तो उसका हवा खोल दीजिए. ठीक है कोई ठेला नहीं लगेगा. चारों तरफ सौ सौ गज तक नहीं होगा. वन वे स्ट्रिक्टली फॉलो होगा, साइन बोर्ड लग रहा है 5000 फाइन.
हम पुलिस है… तो… गजब अभी मैं पुलिस अधीक्षक नवादा हूं, मैं यहां पहले भी पोस्टेड रहा हूं मालिक.. बात समझिए यह मेरा पहला प्यार है. फर्स्ट पोस्टिंग यही थी. मैं नहीं जानता हूं, मैं कोई कमेंट नहीं करता हूं, लेकिन जो एसपी जिले में सड़क पर नहीं उतरते हैं उसके बारे में मैं और क्या कह सकता हूं. जब वह सड़क पर उतर कर देखेंगे क्या है समस्या और यह सबसे पहले लोगों को इफेक्ट करता है. हर एसपी को रोड पर उतरना चाहिए. हम तो बोलेंगे अगर नहीं करता है.. तो गलत करता है गलत करते हैं और चेंबर से बैठ कर करके ट्रैफिक नहीं चलती रोड पर चलती है मालिक. यह ठेला यहां पर है जब तक आकर हम देखेंगे नहीं चेंबर पर बैठे-बैठे कर देते क्या? और मैं आपको दावे के साथ कहता हूं कि मैंने कुछ नहीं किया थोड़ा थोड़ा सा किया है और यह पदाधिकारी हैं हमारे मेरा विश्वास है जितनी छोटी सी बात मैंने कही उतना करवा दीजिए नवादा में जाम नहीं लगेगा.”

शोशल मीडिया परएसपी प्रंतोष कुमार सिंह के बयान की जमकर तारीफ हो रही है. लोगों ने इस बाईट को अब तक किसी भी अधिकारी द्वारा दी गयी बाइट्स में सबसे बेहतरीन बताया है.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध