बोल वचन खास

Saharanpur: कोर्डियोलोजिस्ट, नीरो सर्जन, सिटी स्केन और एमआरआई जैसी सुविधाओं के बिना मेडिकल कॉलेज में जारी है सुरक्षा से जंग

सहारनपुर में कोरोना से नहीं थम रहा है मौतों का सिलसिला

महिला और उपनिरीक्षक की राजकीय मेडिकल कालेज में कोरोना से हुई मौत, मंडल में 212 नए संक्रमित निकले

राजकीय मेडिकल कालेज में नहीं है कोर्डियोलोजिस्ट और नीरो सर्जन

सिटी स्केन और एमआरआई जैसी सुविधाओं के अभाव में कोरोना संक्रमित या तो दम तोड़ रहे हैं या फिर रैफर हो रहे हैं

अकेले सहारनपुर में 86 लोगों की जान जा चुकी है

गौरव सिंघल, विशेष संवाददाता.

सहारनपुर। सहारनपुर जिले में नए कोरोना संक्रमित लगातार सामने आ रहे हैं। एक ही दिन में सहारनपुर मंडल में करीब 212 नए कोरोना संक्रमित सामने आए हैं। 57 वर्षीय एक दरोगा और 56 वर्षीय एक महिला ने राजकीय मेडिकल कालेज की आईसीयू में दम तोड़ दिया। सहारनपुर के मंडलायुक्त संजय कुमार ने बताया कि आज सहारनपुर में नए 87 मामले सामने आए। मुजफ्फरनगर में 109 और शामली में 16 नए संक्रमित निकले। राजकीय मेडिकल कालेज में 85-86 के करीब कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। करीब 300 बिस्तरों वाले इस मेडिकल कालेज में यूं कहने को तो वेंटीलेटर सुविधा भी है और बायोसेफ्टी प्रयोगशाला का संचालन भी हुआ है। कार्डियोलोजिस्ट और नीरो सर्जन जैसे विशेषज्ञों के पद रिक्त है। करोड़ो-अरबों की लागत से बने इस राजकीय मेडिकल की दुर्दशा को ऐसे समझा जा सकता है कि यहां सिटी स्केन और एमआरआई जैसी सुविधाओं का घोर अभाव है। सबसे ज्यादा मरीज इसी राजकीय मेडिकल कालेज में भर्ती हैं। ऐसे कोरोना संक्रमित रोगियों को जिनकों शुगर की बीमारी है अथवा बल्ड प्रेशर की बीमारी है या फिर दिल की बीमारी है को बचाना इस राजकीय मेडिकल कालेज में असंभव साबित हो रहा है। मेडिकल कालेज और जिला स्वास्थ्य विभाग के बीच तालमेल का अभाव है।
उच्चाधिकारियों को भी गंभीर रोगियों के लिए एंबूलेंस की व्यवस्था करने में पसीने छूट रहे हैं। रोगी और उनके परिवार के लोग बेबस और लाचार हैं। यही कारण है कि पिछले एक माह के दौरान यहां लगातार कोरोना से मौतें हो रही हैं। सहारनपुर में संक्रमित करीब 6300 हो गए हैं। जिनमें करीब 1500 गंभीर स्तर के रोगी हैं। सहारनपुर जिले में 4650 के करीब रोगी अभी तक ठीक हो पाए हैं। कमिश्नर संजय कुमार की कोशिशों से संभावित संक्रमितों की जांच की संख्या जरूर बढ़ी है। करीब 130143 लोगों की जांच अभी तक हो चुकी है। मुजफ्फरनगर में कुल मामले 3846 के करीब हैं। 1188 के करीब सक्रिय रोगी हैं। 2607 के करीब ठीक हो चुके हैं और करीब 38350 नमूनों की जांच हुई है। करीब 58 लोगों की कोरोना से जान गई है। शामली में आज 16 नए मामले आए थे। वहां करीब 1972 हो गए है। कुल संक्रमित और 444 के करीब सक्रिय रोगी हैं। करीब 1515 रोगी अभी तक ठीक हो चुके हैं। करीब 16 लोगों की जान गई है और करीब 58334 नमूनों की जांच वहां अभी तक हो पाई है।

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.