व्यक्ति विशेष

Saharanpur: ना सांसद ना विधायक रातों रात सोशल मीडिया पर छा गए दो युवा, कोरोना काल में जमकर हो रही वाहवाही, जानिए कौन हैं दोनों

उत्तर प्रदेश का सहारनपुर. वैश्विक महामारी में समाज सेवा और समाज के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने की जिम्मेदारी जिन हाथों को मिली थी वह हाथ दिखाई नहीं दे रहे लेकिन सोशल मीडिया पर दो ऐसे युवा छाए हुए हैं जो ना तो विधायक हैं ना सांसद और तो और छोड़िए पार्षदी से भी कोई लेना देना नहीं. लेकिन काम ऐसे कि आप भी बिना सलाम किए नहीं रह पाएंगे. चर्चा हो रही है राहुल झाम और प्रशांत गुप्ता की. विकट घड़ी में जब अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की खबरें टीवी चैनलों का बड़ा हिस्सा बनी है, अंतिम संस्कार को लेकर टि्वटर मीडिया पर लोगों का गुस्सा और पारिवारिक दूरी ट्रेंड कर रहा है. ऐसे में सहारनपुर जिले के इन दो युवाओं ने अलग नजीर लिख दी. लोग न केवल इनको शेयर कर रहे हैं बल्कि अपने अपने तरीके से दोनों की वाहवाही भी कर रहे हैं.
आइए जान लेते हैं कि दोनों कैसे रातों-रात सांसदों, विधायकों और प्रशासनिक व्यवस्थाओं को पीछे छोड़ते हुए सोशल मीडिया पर हीरो बन गए. लोगों के लिए प्रेरणा बन गए…

राहुल झाम

वैश्विक महामारी कोरोना से होने वाली मौतों में एक ओर जहां मृत व्यक्ति के सगे बेटे-बेटी भी भय के मारे उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने से परहेज कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर भारतीय जनता युवा मोर्चा के महानगर मंत्री ने कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के अंतिम संस्कार के लिए जिम्मेदारी ले ली. राहुल ने बाकायदा नम्बर जारी कर सहारनपुर की जनता से अपील की है कि सहारनपुर में दुर्भाग्यवश यदि किसी व्यक्ति की कोरोना से मृत्यु हो जाती है तथा उसके शव को कंधा देने के लिए कोई नहीं है, ऐसे में वह उसका
अंतिम संस्कार अपने संसाधनों से करेंगे.

राहुल झाम


जान लेना महत्वपूर्ण है कि भारतीय जनता युवा मोर्चा के महानगर महामंत्री राहुल झाम विगत एक सप्ताह में युवा नेता गौरव कक्कड़, संचित अरोड़ा व सोनी शर्मा की मदद से कोरोना संक्रमण से मरने वाले लगभग 13 लोगों का अंतिम संस्कार कर चुके हैं. राहुल झाम ने सम्पर्क के लिए मोबाइल नम्बर 7017777984 भी जारी किया है.
राहुल झाम ने सहारनपुर की जनता से अपील की और कहा

यदि सहारनपुर में दुर्भाग्यवश यदि किसी व्यक्ति की
कोरोना संक्रमण से मृत्यु हो जाती है तो वह बेझिझक उनसे सम्पर्क कर सकते हैं ताकि वे अपने संसाधनों पर उसका अंतिम संस्कार कर सकें.

भाजयुमो के महानगर मंत्री राहुल झाम की इस अनूठी पहल का विभिन्न सामाजिक, व्यापारिक व राजनीतिक संगठनों से जुड़े लोगों द्वारा सराहना की जा रही है.

प्रशांत गुप्ता

वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण के स्वरूप को देखते हुए जहां बड़े से बड़े नेता पिछले पायदान पर खड़े हैं वही प्रशांत गुप्ता फ्रंट लाइन पर आकर मरीजों के लिए अस्पतालों में व्यवस्था करवा रहे हैं. दिन हो या रात प्रशांत गुप्ता लगातार मरीजों की मदद में लगे हुए हैं. युवा समाजसेवी की कोरोना कॉल में सेवा भाव को देखकर फेसबुक से लेकर तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जमकर वाहवाही हो रही है.
फॉलोअर्स तो यहां तक भी कह रहे हैं कि ऐसे युवा को ही नेतृत्व के लिए चुना जाना चाहिए. हालांकि प्रशांत ने सभी बातों को दरकिनार कर इसे सेवा भाव का नाम दिया.

प्रशांत गुप्ता


कोरोना काल में जब अस्पतालों में मरीज एक-एक बेड के लिए चक्कर काट रहे हैं ऐसे में प्रशांत मरीजों के लिए शहर के कोविड अस्पतालों में बेड की व्यवस्था करवा रहें है इतना ही नहीं दूसरी जरूरी सुविधाएं भी मरीजों को उपलब्ध करवा रहें हैं.
ऐसा पहला मौका नही है जब प्रशांत लोगों की सेवा के लिए आगे आये हों इससे पहले भी बीमारी से जूझ रहें मरीजो को इलाज के लिए बड़े बड़े अस्पतालों में भर्ती करवाते रहे हैं.
प्रशांत ने बकायदा सहारनपुर वासियों के लिए फोन 9690163333 नंबर जारी किया है और अपील की है कि

मेरी कोशिश है कि मैं अधिक से अधिक लोगों की सेवा कर सकूं. पूरा प्रयास करता हूं कि वैश्विक महामारी कोरोना के समय में लोगों को बेड और जरूरत की चीजें उपलब्ध करा सकूं. सहारनपुर की जनता के लिए 24 घंटे हाज़िर हु. कांटेक्ट नंबर 9690163333

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध