न्यूज़

प्रेस नोट: एक के बाद एक दुर्घटनाओं के जागा प्रशासन, ट्रैक्टर ट्रॉली चालकों को चेतावनी, बोले कमिश्नर दो दिन के अंदर ट्रालियों पर लगवाएं रिफ्लेक्टर

  • एक के बाद एक दुर्घटनाओं के जागा प्रशासन, ट्रैक्टर ट्रॉली चालकों को चेतावनी, बोले कमिश्नर दो दिन के अंदर ट्रालियों पर लगवाएं रिफ्लेक्टर
  • एक सप्ताह के अन्दर तीनों जनपदों सहारनपुर, मुजफ्फरनगर व शामली के सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, एनएचआई पर सम्भावित दुर्घटना के स्थान को चयनित करते हुये वहां क्या किया जाना है, इसका प्रस्ताव देना सुनिश्चित करें-मण्डलायुक्त
  • लकड़ी ढोने वाले, गन्ना ढोने वाले, जनता व किसानों को अवगत करा दिया जाये कि ये अपने वाहनों पर रिट्रोरिफलेक्टिव टेप अवश्य लगा दे अन्यथा दो दिन पश्चात वाहन को बन्द करने की कार्यवाही की जायेगी – मण्डलायुक्त


सहारनपुर. मण्डलायुक्त संजय कुमार की अध्यक्षता में मण्डलीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक सहारनपुर सर्किट हाऊस सभा कक्ष में की गयी. भारत वर्ष में प्रत्येक वर्ष दुर्घटना में 1.5 लाख से अधिक मृत्यु होने और वर्ष 2019 में उ0प्र0 में 22384 व्यक्तियों की मृत्यु होने पर चिंता व्यक्त करते हुये, चिन्ह्ति ब्लैक स्पाॅट नेशनल हाईवे व लोक निर्माण विभाग व अन्य मार्गों पर चिन्ह्ति ब्लैक स्पाॅट पर एनएचआई व पीडब्लूडी के अधिकारियों का सुधारात्मक कार्यवाही के निर्देश दिये गये. जिसमें अल्पाकालिक सुधार 07 दिन में तथा दीर्घकालिक सुधार 10 मार्च 2020 तक कराये जाने के निर्देश दिये गये. यह भी निर्देश दिये गये कि एक सप्ताह के अन्दर तीनों जनपदों के सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, एनएचआई पर सम्भावित दुर्घटना के स्थान को चयनित करते हुये वहां क्या किया जाना है? प्रस्ताव देंगे, जिसको एनएचएआई और पीडब्लूडी को कराया जाना है. यह भी निर्देश दिया गया कि समय से एनएचएआई और पीडब्लू डी द्वारा सुधार न किये जाने पर दुर्घटना की दशा में सम्बन्धित के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी जाये. दुर्घटना राहत के मद में  सोलेशियम स्कीम के अन्तर्गत  जनपद मुजफ्फरनगर में 10 प्रकरण में रु0 2,50,000/- सहारनपुर में तीन प्रकरणों में 75,000/- वितरित किया गया. उ0प्र0मोटर यान अधिनियम के नियम 30 व 31 के अन्तर्गत लम्बित 24 प्रकरण सहारनपुर तथा 09 प्रकरण मुजफ्फरनगर की आख्या प्रेषित करने के निर्देश दिये गये. उप गन्ना आयुक्त के माध्यम से मण्डल के सभी चीनी मिलों में संचालित टैक्टर-ट्राॅलियों पर रिट्रोरिफलेक्टिव टेप लगाये जाने के निर्देश दिये गये. यह भी निर्देश दिया गया कि प्रेस नोट के माध्यम से मार्ग पर लकड़ी ढोने वाले, गन्ना ढोने वाले, जनता व किसानों को अवगत करा दिया जाये कि ये अपने वाहनों पर रिट्रोरिफलेक्टिव टेप अवश्य लगा दे अन्यथा दो दिन पश्चात वाहन को बन्द करने की कार्यवाही की जायेगी और किसी भी स्थिति पर विचार नहीं किया जायेगा. जनपद सहारनपुर व मुजफ्फरनगर में ई-रिक्शा का रूट का निर्धारण यातायात पुलिस, नगर निगम और परिवहन विभाग द्वारा किया जाये. ई-रिक्शा का कलर कोड व रूट नम्बर के अनुसार संख्या का निर्धारण करते हुये सख्त से सख्त कार्यवाही करते हुये 20 फरवरी 2020 तक व्यवस्था लागू की जाये, आदेश न मानने वाले के विरूद्ध कार्यवाही की जाये. शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर स्कूल के खुलने के समय व स्कूल बन्द होने के समय नो ऐन्ट्री रखी जाये. गुड सेमेरेटियन की पहचान की जाये. इसके लिये सम्बन्धित थानों व जिला अस्पताल से सूचना लेकर दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की मदद करने वालों को पुरस्कृत किया जाये. स्कूलों में चलने वाली वाहनों को नियमित कराने हेतु प्रत्येक प्राईवेट स्कूल के संचालक निजी गार्डों की व्यवस्था करना सुनिश्चित करें.
बैठक में पुलिस उप महानिरीक्षक, सहारनपुर व मुजफ्फरनगर के जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक सहारनपुर, वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक मुजफ्फरनगर, पुलिस अधिक्षक शामली, जिला विकास अधिकारी सहारनपुर, यातायात पुलिस अधिक्षक सहारनपुर, अपर शिक्षा निदेशक, अपर निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, एनएचएआई बागपत व रूडकी, पीडब्लूडी के अधिकारी, लोक निर्माण विभाग के अधिकारी, सम्भागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन/प्रवर्तन) सहारनपुर एवं सहारनपुर/मुजफ्फरनगर/शामली जिलों के सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन/प्रवर्तन), अध्यक्ष बस व ट्रक आॅपरेटर यूनियन व अन्य व्यक्ति शामिल रहे.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.