बोल वचन खास

पंचांग: जान लीजिए 2020 के शुभ महूर्त जो लाएंगे आपके जीवन में खुशियां

साल बदलते ही हमें जो सबसे बड़ी चिंता सताती है वो है मुहूर्त और घड़ी की जिसमें हम अपने कार्यों को मूर्तरूप देना चाहते हैं. इसी को ध्यान रखते हुए वाराणसी पंचांग के अनुसार 2020 के उन शुभ मुहूर्त के समय को लेकर हमने भी जानकारियां एकत्र की और विद्वानों की सहमति के बाद आपसे बोलवचन के जरिए साझा कर रहे हैं..

चार अबूझ मुहूर्त  1. चैत्र शुक्ल प्रतिपदा, 2. अक्षय तृतीया, 3. दशहरा, 4. दीपावली (सायंकाल के बाद दीप प्रकाश में). उपरोक्त मुहूर्तों को अबूझ मुहूर्त कहते हैं. इन मुहूर्तों में कोई भी काम शुरू करने पर विजय प्राप्ति होती है. लेकिन विवाह आदि कार्य के लिए पंचांग मुहूर्तों को ही मानें. गृहारंभ/गृह प्रवेश मुहूर्त जनवरी : 31-शुक्र.माघ शु.6 रेवती (सप्तमी में) फरवरी :  03-सोम.माघ शु.9 रिक्ताबाद रोहिणी, ल.6 गृहारंभ/गृहप्रवेश, 13-गुरु.फाल्गुन कृ. 5 हस्त. मार्च :  6-शुक्र.फाल्गुन शु.11 पुष्य भद्रा बाद गृहारंभ/गृहप्रवेश ल.5 मई : 4-सोम.वैशाख शु.12 उ.फा.गृहा/गृ.प्रवेश ल.5 (दि.2:25 बाद), ल.9. 8-शुक्र. ज्येष्ठ कृ.1 अनु. गृहारंभ ल.5 (दि. 2:25 बाद). 18-सोम. ज्येष्ठ कृ.11 उ.भा. गृ.प्रवेश ल.6 (दि. 1:15 बाद). जुलाई : 16-गुरु.श्रावण कृ.11 कृतिका जीर्ण गृह प्र.ल.11 (रा 8:31 बाद). 17-शुक्र. श्रा.कृ. 12 रोहिणी जीर्ण गृह प्र. ल.6 (दि 9:47 बाद) 27-सोम. श्रा. शु.7 चित्रा जीर्ण गृह प्र. 29-बुध. श्रा. शुक्ल 10 अनुराधा गृहारंभ ल.6 (दि. 9:0 बाद). 30-गुरु. श्रा. शु. 11 अनुराधा गृहारंभ, जीर्णगृह प्र. ल.6 (दि. 8:56 बाद). अगस्त : 5-बुध. भाद्र. कृ. 2 घनिष्ठा गृहारंभ, ल.6 (दि.8:34 बाद) एवं शतभिषा ल.11 (रा.7:33 बाद). 6-गुरु. भाद्र. कृ. 3 शतभिषा गृहारंभ ल.6 (दि.8:30 बाद). अक्तूबर : 26-सोम.शु.आश्विन शु.10 धनिष्ठा गृहारंभ ल.9 (दि.10:18 बाद) नवंबर : 25-बुध. कार्तिक शु.11 उ.भा गृहारंभ ल.1 (दि.10:24 बाद). 30-सोम. कार्तिक शु.15 रोहिणी गृहारंभ ल.10 (दि. 10:3 बाद) दिसंबर : 10-गुरु. मार्ग. कृ.10 चित्रा जीर्णगृह प्र.ल.2 (सायं 3:42 बाद). 11-शुक्र. मार्ग.कृ.11 स्वाति जीर्ण गृह प्र.ल.8 (प्रात: 7:9 तक) नोट : अमावस्या व पूर्णिमा तिथि छोड़कर शुक्ल पक्ष की द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी और त्रयोदशी तिथि शुभ. गृह प्रवेश स्थिर लग्न में करें. शुभ घड़ी के लिए विस्तृत पंचांग देखें. जनवरी  06-सोम : पौष पुत्रदा एकादशी 08-बुध : प्रदोष व्रत (शुक्ल) 10-शुक्र : पौष पूर्णिमा व्रत 12-रवि :  स्वामी विवेकानंद   जयंती. 13-सोम : संकष्टी चतुर्थी,   लोहड़ी-पंजाब 15-बुध :  पोंगल, उत्तरायण,   मकर संक्रांति-8:24,   खरमास समाप्त. 16-गुरु : माघ बिहु 20-सोम : षटतिला एकादशी 22-बुध : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 23-गुरु : मासिक शिवरात्रि,   सुभाषचंद्र बोस जयंती 24-शुक्र : माघ अमावस्या, मौनी   अमावस्या 26-रवि : गणतंत्र दिवस, चंद्रदर्शन 29-बुध : सरस्वती पूजा फरवरी 05-बुध :  जया एकादशी 06 गुरु : प्रदोष व्रत (शुक्ल) 09-रवि : माघ पूर्णिमा व्रत,   रविदास जयंती 10-सोम : फाल्गुन प्रारंभ *उत्तर 12-बुध : संकष्टी चतुर्थी 13-गुरु : कुंभ संक्रांति 18-मंगल : स्वामी दयानंद   सरस्वती जयंती 19-बुध : विजया एकादशी 20-गुरु : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 21-शुक्र : महाशिवरात्रि, मासिक   शिवरात्रि 23-रवि : फाल्गुन अमावस्या,   दर्श अमावस्या 25-मंगल : चंद्र दर्शन, फुलैरा   दूज, रामकृष्ण जयंती 27-गुरु : वैनायकी गणेश चतुर्थी मार्च 06-शुक्र :  आमलकी एकादशी,   नरसिंह द्वादशी 07-शनि :  प्रदोष व्रत (शुक्ल) 09-सोम :  होलिका दहन,   फाल्गुन पूर्णिमा व्रत 10-मंगल : होली, चैत्र प्रारंभ  12-गुरु : संकष्टी चतुर्थी 14-शनि : मीन संक्रांति, रंग  पंचमी 20-शुक्र : पापमोचिनी एकादशी,   वसंत समाप्त 21-शनि : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 22-रवि : मासिक शिवरात्रि 24-मंगल : चैत्र अमावस्या 25-बुध : चैत्र नवरात्रि, उगाडी,   घटस्थापना, गुड़ी   पड़वा, चंद्र दर्शन 27-शुक्र : सरहुल, गौरी पूजा अप्रैल 02-गुरु : राम नवमी 03-शुक्र : चैत्र नवरात्रि पारणा 04-शनि :  कामदा एकादशी 05-रवि : प्रदोष व्रत (शुक्ल) 06-सोम :  महावीर जयंती 08-बुध : हनुमान जयंती,  09-गुरु : वैशाख प्रारंभ *उत्तर,   मु. शब ए बारात* 10-शुक्र : गुड फ्राइडे 11-शनि : संकष्टी चतुर्थी 14-मंगल :  खरमास समाप्त, आंबेडकर जयंती 18-शनि : वरुथिनी एकादशी 20-सोम : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 21-मंगल : मासिक शिवरात्रि 22-बुध : वैशाख अमावस्या 26-रवि : अक्षय तृतीया मई 04-सोम : मोहिनी एकादशी-   वैष्णव 05-मंगल : प्रदोष व्रत (शुक्ल) 07-गुरु : वैशाख पूर्णिमा व्रत 10-रवि : संकष्टी चतुर्थी 14-गुरु : वृष संक्रांति 15-शुक्र : श्रीशीतलाष्टमी व्रत, मु. शहादते हजरत अली* 18-सोम : अपरा एकादशी 19-मंगल : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 20-बुध : मासिक शिवरात्रि 22-शुक्र : ज्येष्ठ अमावस्या,   शनि जयंती, वट   सावित्री व्रत, जमात   उल-विदा 24-रवि : चंद्र दर्शन 25-सोम : महाराणा प्रताप   जयंती, ईद* जून 01-शुक्र : श्रमिक जयंती, गंगा   दशहरा 02-मंगल : निर्जला एकादशी,  03-बुध : प्रदोष व्रत (शुक्ल) 05-शुक्र : ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत 08-सोम : संकष्टी चतुर्थी 14-रवि : मिथुन संक्रांति,  17-बुध : योगिनी एकादशी 18-गुरु : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 19-शुक्र :  मासिक शिवरात्रि 21-रवि : आषाढ़ अमावस्या, सूर्य ग्रहण, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, साल का सबसे बड़ा दिन 23-मंगल : जगन्नाथ रथ   यात्रा, रथोत्सव 24-बुध : वैनायकी गणेश   चतुर्थी व्रत जुलाई 01-बुध : देवशयनी एकादशी,   अषाढ़ी एकादशी 02-गुरु : प्रदोष व्रत (शुक्ल),   चार्तुमास आरंभ 05-रवि : गुरु-पूर्णिमा, आषाढ़   पूर्णिमा व्रत 06-सोम : सावन प्रारंभ *उत्तर,   श्रावण सोमवार व्रत   *उत्तर 08-बुध : संकष्टी चतुर्थी 16-गुरु : कामिका एकादशी,   कर्क संक्रांति 18-शनि : मासिक शिवरात्रि,   प्रदोष व्रत (कृष्ण) 20-सोम : श्रावण अमावस्या, पुष्य के सूर्य दि. 10:12 23-गुरु : हरियाली तीज 25-शनि : नाग पंचमी 27-सोम : तुलसीदास जयंती अगस्त 01-शनि : प्रदोष व्रत (शुक्ल),   ईद-उल-जुहा,   बकरीद* 03-सोम : रक्षा बंधन, श्रावण   पूर्णिमा व्रत 06-गुरु : कजरी तीज 07-शुक्र : संकष्टी चतुर्थी,   चंद्रोदाय रात 9:20 12-बुध : जन्माष्टमी व्रत-स्मार्त 15-शनि : अजा एकादशी,   स्वतंत्रता दिवस 16-रवि : प्रदोष व्रत (कृष्ण),   17-सोम : मासिक शिवरात्रि,   मलयालम नववर्ष 19-बुध : भाद्रपद अमावस्या 21-शुक्र : हरतालिका तीज 22-शनि : गणेश चतुर्थी 30-रवि : प्रदोष व्रत, ताजिया* सितंबर 01-मंगल : अनंत चतुर्दशी व्रत,   गणपति विसर्जन 02-बुध : भाद्रपद पूर्णिमा व्रत,   पितृपक्ष प्रारंभ 05-शनि : संकष्टी चतुर्थी,   शिक्षक दिवस 09-बुध : श्रीमहालक्ष्मी व्रत   च.उ.रा 10:34 10-गुरु :  जीवित्पुत्रिका व्रत 13-रवि : इंदिरा एकादशी व्रत 15-मंगल : मासिक शिवरात्रि,   प्रदोष व्रत (कृष्ण) 16-बुध : कन्या संक्रांति 17-गुरु : अश्विन अमावस्या, पितृ विसर्जन, विश्वकर्मा पूजा 27-रवि : पद्मिनी एकादशी, हस्त के सूर्य दिन 3:35 29-मंगल : प्रदोष व्रत (शुक्ल) नवंबर 04-बुध : संकष्टी चतुर्थी, करवा चौथ 11-बुध : रमा एकादशी 13-शुक्र : मासिक शिवरात्रि,   धनतेरस, प्रदोष व्रत   (कृष्ण) 14-शनि : दिवाली, नरक चतुर्दशी, महाकाली पूजा 15-रवि : गोवर्धन पूजा, कार्तिक   अमावस्या 16-सोम : भाई दूज, वृश्चिक संक्रांति, गोवर्धन पूजा 18-बुध : डाला छठ प्रारंभ 20-शुक्र : छठ पूजा 25-बुध : देवुत्थान एकादशी,   तुलसी विवाह 27-शुक्र :  प्रदोष व्रत (शुक्ल) 30-सोम : कार्तिक पूर्णिमा,   गुरुनानक जयंती िदसंबर 03-गुरु : संकष्टी चतुर्थी,   चंद्रोदाय रात 7:36 11-शुक्र : उत्पन्ना एकादशी-  वैष्णव 12-शनि : प्रदोष व्रत (कृष्ण) 13-रवि : मासिक शिवरात्रि 14-सोम : मार्गशीर्ष अमावस्या,   सूर्य ग्रहण 16-बुध : धनु संक्रांति,   खरमास आरंभ 19-शनि : श्रीराम विवाहोत्सव 25-शुक्र : मोक्षदा एकादशी, गीता  जयंती, मेरी क्रिसमस 27-रवि : प्रदोष व्रत (शुक्ल) 28-सोम : पिशाचमोचन श्राद्ध 30-बुध : मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत 31-गुरु : पौष प्रारम्भ *उत्तर शुभ विवाह मुहूर्त : 2020 जनवरी : 17, 18, 19, 20, 21, 22, 29, 30  उत्तम :  30-गुरु को उत्तरा-भाद्रपद, रेवती में   दिन-रात सर्वोत्तम मुहूर्त. फरवरी :  03, 04, 09, 12, 16, 18, 20, 25, 26 उत्तम :  05-मंगल को रोहिणी-मृगशिरा में,    09 को रात्रि 8:33 के बाद, 18 को मूल   नक्षत्र में अहोरात्र, 26 को उत्तरा भाद्रपद एवं   रेवती में अहोरात्र उत्तम. मार्च :  01, 02, 07, 09, 10 उत्तम :  02-सोम को रोहिणी में विवाह-अहोरात्र,   10-मंगल को अहोरात्र विवाह, होली. अप्रैल :  14, 15, 20, 25, 26 उत्तम :  25-शनि को सायं 7:34 के बाद रोहिणी   में उत्तम, 26-रवि को अक्षय तृतीया-   अहोरात्र विवाह. मई :  01, 04, 06, 08, 10, 12, 17, 18, 23, 24 उत्तम :  08-शुक्र दिन में 9:58 के बाद अनुराधा   में विवाह उत्तम, 10-रवि को पूर्वाह्न 8:05   के बाद मूल नक्षत्र-अहोरात्र, 17-रवि    को अपराह्न 3:10 के बाद उ.भाद्र में,    18-सोम उ.भाद्र एवं रेवती में अहोरात्र,   24-रवि को अहोरात्र विवाह. जून :  27, 28, 30 उत्तम :  28-रवि को उ.फाल्गुनी-हस्त नक्षत्रों में   अहोरात्र विवाह, 30-मंगल को स्वाति    नक्षत्र-रात्रि 3:52 तक उत्तम मुहूर्त. नवंबर :  30-सोमवार इस दिन अहोरात्र-रोहिणी में   उत्तम विवाह मुहूर्त. दिसंबर : 01, 06, 08, 09, 11 उत्तम : 01-मंगल को मृगशिरा में अहोरात्र उत्तम   विवाह, 03-बुध को हस्त में अहोरात्र विवाह   उत्तम, 11-शुक्र को रात्रि 04:49 तक    स्वाति में विवाह उत्तम. नोट : महावीर पंचांग, वाराणसी (उत्तर भारत ) के आधार पर.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध