ट्रेंडिंग न्यूज़

लाठी मार पुलिस की पहचान के बीच हुई ऐसी घटना, जिसे पढ़कर भावुक हो जाएंगे आप

JAIPUR/RAJASTHAN. देश की पुलिस आजकल लाठी मार पुलिस के रूप में जानी जा रही हैं वजह है लॉक डाउन को पूरी तरह से पालन कराने की. सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि इंसान का जीवन बचाने के लिए पुलिस को लाठियों का प्रयोग करना पड़ता है. अपनी नैतिक जिम्मेदारी से पीछे हट रहे लोगों को सबक सिखाने का जरिया लाठी है. अपने इस रैली के लिए अक्सर पुलिस पर सवाल भी खड़े होते हैं लेकिन पर्दे के पीछे पुलिस ऐसे भी काम करती है जो आपको सलूट करने के लिए मजबूर कर देंगे. आजकल देश में कर्तव्य परायणता के मामले में पुलिस ने मिसाल कायम की है. राशन पहुंचाने से लेकर अस्पताल की सेवाओं तक, घर से लेकर सड़क तक, हर छोर पर पुलिस आमजन की मददगार रही है. फर्ज सिर चढ़कर बोल रहा है. ऐसा ही एक मामला राजस्थान के जयपुर में सामने आया है जहां अधिकारी के आदेश के बावजूद भी देश की सुरक्षा को पहले मानते हुए पुलिसकर्मी ने अपनी शादी को टाल दिया. उसने शादी और देश में से पहले देश को चुना.
दरअसल जयपुर के सांगानेर थाने के सिपाही टिंकू कुमावत की 2 अप्रैल को शादी होनी थी. लॉक डाउन से पहले तय हुई इस शादी के कार्ड भी बंट चुके थे.सभी व्यवस्थाएं पूरी थी यहां तक कि हनीमून तक की प्लानिंग कर ली गई थी. लेकिन अब सब कुछ कैंसिल कर दिया गया है.

सिपाही के शब्द जो दिल को छू लेंगे

लॉक डाउन के संकट को देखते हुए कॉन्स्टेबल ने अपनी शादी को आगे बढ़ा कर ड्यूटी पर वापसी ज्वाइन कर लिया. अधिकारी ने शादी करने की बात कही तो सिपाही ने जो जवाब दिया उसके बाद अधिकारी भी गर्व से गदगद हो गए.सिपाही ने कहा- सर इस समय मेरे लिए देश और उसमें रहने वाले लोगों की सुरक्षा ज्यादा जरूरी है, शादी का क्या वह तो बाद में भी हो जाएगी.
जैसे ही शादी की यह चर्चा मीडिया में आई टिंकु कुमावत उर्फ सुनील की जमकर तारीफे हो रही है.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध