पॉलिटिकल खास

कोरोना संकट के बीच अब ये टूलकिट क्या है जिसपर कांग्रेस और भाजपा लड़ाई लड़ रहे हैं?

कोरोनावायरस के चलते देश के हालात खराब है. रोज लाखों केस सामने आ रहे है. हजारों लोग अपना जीवन गांव आ रहे हैं. इस महा संकट के बीच देश की दो सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टियां ना केवल एक दूसरे पर आरोप लगा रही हैं बल्कि मामला कोर्ट तक पहुंच गया है. झगड़े की वजह है टूलकिट. एक बार फिर टूल किट चर्चा में है और देश के लोगों के मन में टूल किट को लेकर सवाल हैं. आइए समझते हैं कि आखिर मामला क्या है?

18 मई को भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाया कि कांग्रेस टूल किट का इस्तेमाल कर कोरोनावायरस संकट के वक्त फायदा उठाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को धूमिल कर रही है. वहीं कांग्रेस ने आरोपों को फर्जी बताया और किसी भी तरह के टूलकिट इस्तेमाल से इनकार किया. इतना ही नहीं कांग्रेस ने भाजपा के कई नेताओं के खिलाफ दिल्ली पुलिस को रिपोर्ट दर्ज करने के लिए प्रार्थना पत्र दिया है. इतना ही नहीं कोर्ट में भी कांग्रेस मामले को लेकर पहुंची है. कांग्रेस के कोर्ट में पहुंचने पर भाजपा ने तंज कसा है और कांग्रेस से सवाल किया है कि टूलकिट पर जवाब देने की बजाय कांग्रेस केस कर रही है.

क्या है टूल किट?

संबित पात्रा समेत भाजपा के कई नेताओं ने टूलकिट को लेकर ट्विटर पर ट्वीट किया है और पूरा मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. टूलकिट पहली बार आर एस एस के मुखपत्र ऑर्गेनाइजर में देखी गई थी. अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. टूलकिट के जरिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से सोशल मीडिया पर कोरोनावायरस के इंडियन स्ट्रेन को ‘मोदी स्ट्रेन’ और ‘सुपर स्प्रेडर कुंभ’ जैसे शब्दों और वाक्यों का इस्तेमाल करने को कहा गया है.

पूरे मामले को मीडिया के सामने लाने वाले भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट किया और लिखा कि मित्रों कांग्रेस का एजेंडा देखिए. इसके बाद संबित हेस्टैग करते हैं और कांग्रेस टूल किट बेनकाब हो गई है, लिखते हैं.

वायरल टूल किट में दाहिने कोने में ऊपर की ओर कांग्रेस पार्टी का लोगो नजर आ रहा है. कथित तौर पर पार्टी कार्यकर्ताओं से लाशों और अंतिम संस्कार की नाटकिय तस्वीरों का इस्तेमाल करने को कहा गया है. टूलकिट में कहा गया है कि लोगों को ‘सुपर स्प्रेडर कुंभ’ याद दिलाते रहना है. यह जरूरी है क्योंकि यह बीजेपी की हिंदू राजनीति है जो इतना संकट पैदा कर रही है. टूल किट में यह भी कहा गया है कि कुंभ और ईद के बीच में आने से बचें क्योंकि बीजेपी इसका एनकाउंटर करेगी. ईद की बधाई पर कमेंट करने से मना किया गया है.

टूल किट में विदेशी पत्रकारों मीडिया प्रकाशनों में भारतीय लेखकों से संपर्क करने के लिए कहा गया है. उन्हें इन मुद्दों पर बातचीत करने के लिए कहने के लिए निर्देशित किया गया. तथाकथित टूलकिट में विदेशी मीडिया का फायदा उठाने का निर्देश दिया गया है. कहा गया है कि विदेशी मीडिया जिस तरह से नाटकीय तस्वीरों का इस्तेमाल कर रही है उनकी रिपोर्टिंग को बढ़ाया जा सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए आपत्तिजनक वाक्यों का इस्तेमाल करने निर्देश भी टूल किट में दिए गए हैं.

यूथ कांग्रेस के ट्विटर पेज को टैग करने वालों की मदद कर निर्देश

तथाकथित टूल किट में सिर्फ उन लोगों की मदद के लिए कहा गया है जो इंडियन यूथ कांग्रेस के ट्विटर पेज को टैग कर रहे हो. टूलकिट में अस्पतालों में बेड और अन्य सुविधाओं की जमाखोरी की बात भी कही गई है. कहा गया है कि कुछ अस्पतालों में कुछ बेड ब्लॉक करके रखें और हमारे अनुरोध पर ही उसे रिलीज करें. हर अपील को ट्रैक करें और उसे सोशल मीडिया पर इंडियन यूथ कांग्रेस और उनके अधिकारियों को टैग कर अपील करने को कहें.

संबित पात्रा ने राहुल गांधी को लपेटे में लिया

पूरे मामले को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी पार्टी पर निशाना साधा है. संबित पात्रा ने ट्वीट कर लिखा

“इससे घृणित कहना बहुत कम होगा. राहुल गांधी महामारी का इस्तेमाल पीएम मोदी की छवि खराब करने के लिए करना चाहते हैं. कांग्रेसी कार्यकर्ताओं से म्यूटेंट स्ट्रेन को मोदी स्ट्रेन कहने का निर्देश दिया गया. विदेशी पत्रकारों की मदद से भारत की बदनामी में कोई कसर नहीं छोड़ी.

पूरे मामले पर कांग्रेस क्या कहती है?

कांग्रेस ने भाजपा के आरोपों का खंडन किया है साथ ही साथ अपने कार्यकर्ताओं को ऐसा किसी भी दिशा निर्देश दिए जाने से भी इनकार किया है.
कांग्रेस नेता राजीव गौड़ा ने ट्वीट कर भाजपा पर आरोप लगाया और कहा कि

बीजेपी 1फेक टूलकिट शेयर कर रही है. पार्टी बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और संबित पात्रा के खिलाफ जालसाजी के आरोप में एफआईआर दर्ज करवा रही है.
जब हमारा देश कोरोना से तबाह हो रहा है उस वक्त बीजेपी राहत देने की वजह बेशर्मी से जल्द शादी कर रही है.

पार्टी की ओर से बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बीजेपी सेक्रेटरी बीएल संतोष जैसे नेताओं पर एफ आई आर दर्ज करने की मांग दिल्ली पुलिस से की है.

पूरे मामले पर युथ कांग्रेस क्या कहती है?

पूरे प्रकरण पर इंडियन यूथ कांग्रेस ने बीजेपी के दावों को सिरे से खारिज कर दिया और एक ट्वीट में लिखा

कोरोना को रोकने में भाजपा सरकार नाकाम है. भाजपा सरकार के अपने नेता मदद के लिए गुहार लगा रहे हैं. भाजपा सरकार अपनों की भी मदद नहीं कर पा रही है. हमने आपकी मदद की. #SOSIYC के योद्धाओं ने आपकी मदद की. यही कांग्रेस है.

यूथ कांग्रेस यहीं पर नहीं रुकी पार्टी कि यूथ विंग ने भाजपा पर जनता विरोधी होने का आरोप लगाया और कहा

जनता विरोधी नेता नकली और छेड़छाड़ किए गए डॉक्यूमेंट को कांग्रेस की टूलकिट कहकर फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. आप लोग लोगों की मदद कीजिए. मानसिक स्वास्थ्य को लेकर कृपया हमारी हेल्पलाइन 998383 6838 पर संपर्क करें.

अब क्या हो रहा है

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक कांग्रेस ने पूरे मामले के खिलाफ कोर्ट का रुख किया है. वही भाजपा ने कांग्रेस पर फिर से हमला बोला है. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस नेता सफाई देने के बजाय केस कर रहे हैं.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध