एक्सक्लूसिव

थाने से आधा किलोमीटर दूर ही मकान मालिक के साथ मिलकर करता था गंदा काम पुलिस ने किया खुलासा और हो गई हैरान

सहारनपुर/ उत्तर प्रदेश. पूरे देश भर में कोरोना वायरस के प्रभाव से बचने के लिए लॉक डाउन किया गया है. लॉक डाउन के दौरान शराब की बिक्री पर पूरी तरह से प्रतिबंध है बावजूद इसके शराब की तस्करी पर रोक लगाना अभी तक संभव नहीं हो पाया है. पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर शराब तस्करों और कच्ची शराब बनाने वालों को गिरफ्तार कर रही है. इतना ही नहीं शराब की तस्करी में शामिल लोगों का भी पहचान किया जा रहा है.
आज शनिवार को एक शराब तस्कर का खुलासा करते हुए पुलिस हैरान रह गयी. दरअसल,शराब तस्करी में दूसरे लोगों का मिलना एक आम बात हो सकती है लेकिन लॉक डाउन में वायरलेस विभाग के एक कर्मचारी की पहचान शराब तस्कर के रूप में हो तो जरूर हैरानी का विषय होगा.
थाना सदर बाजार क्षेत्र के हकीकत नगर में वायरलेस डिपार्टमेंट के कर्मचारी द्वारा शराब पिलाने व बेचने के संबंध में मुकदमा दर्ज किया गया है. मामले की जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने बताया कि पिछले काफी दिनों से पुलिस को ऐसी शिकायतें मिल रही थी कि थाना क्षेत्र में शराब बेची और पिलाई जा रही है इसको लेकर क्षेत्राधिकारी नगर रजनीश कुमार उपाध्याय की निगरानी में पुलिस ने थाना सदर बाजार क्षेत्र से दो लोगों को गिरफ्तार किया. जिसमे से एक व्यक्ति वायरलेस डिपार्टमेंट के हेड ऑपरेटर है.


“थाना सदर बाजार क्षेत्र के हकीकत नगर में एक वायरलेस डिपार्टमेंट के हेड ऑपरेटर किसी प्राइवेट आदमी के साथ रहता था. काफी दिन से सूचना मिल रहा था कि वहां पर किसी घर में शराब पिलाया जा रहा है और बेचा जा रहा है. इसी सूचना को सीओ सिटी फर्स्ट रजनीश उपाध्याय द्वारा डेवलप किया गया. उनकी टीम ने वहां दबिश दिया और वहां दो लोग गिरफ्तार हुए जिसमें से एक हेड ऑपरेटर वायरलेस डिपार्टमेंट के जो सहारनपुर में तैनात था दूसरा उनके साथ एक प्राइवेट व्यक्ति हैं. इन दोनों से पंजाब की शराब व्हिस्की अंग्रेजी शराब मिली है जो आप पिला भी रहे थे और बेच भी रहे थे. वहां पर जो शराब बरामद किया गया है उसके आधार पर फर्द बनाया गया है. एफ आई आर लिखा गया. दोनों को न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.”

– दिनेेश कुमार पी, वरिष्ठ पुुुलिस अधीक्षक, सहारनपुर

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध