टॉप न्यूज़

कोरोना से जंग जीते व्यक्ति से नफ़रत नहीं प्यार कीजिए, हो सकते हैं फायदेमंद, स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्यों कहा?

नई दिल्ली. कोरोना से जीत चुका व्यक्ति समाज के लिए हानिकारक नहीं है बल्कि यह समाज के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. इनसे प्यार करने की जरूरत है नफरत करने कि नहीं.
यह बातें स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने अपने रूटीन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं. उन्होंने कहा की कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में हम सब को एक साथ लड़ना चाहिए. कभी-कभी कम जानकारी की वजह से डर पैदा हो जाता है.जो लोग संक्रमित हैं या इस से लड़ रहे हैं उनसे भेदभाव करने लगते हैं. उन्होंने कहा हमारी लड़ाई बीमारी के साथ है ना कि बीमार के साथ. यदि बीमार व्यक्ति से नफरत करेंगे तो पूरी सोसाइटी को नुकसान होता है. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि हमें गलत जानकारी और अफवाह फैलाने से रोकना है. कर्मचारी और पुलिस को टारगेट नहीं करना चाहिए क्योंकि वह हमारे लिए काम कर रहे हैं.
संयुक्त सचिव अग्रवाल ने बताया की अच्छी खबर यह है कि देश के 16 जिलों में पिछले 28 दिनों में कोरोनावायरस का कोई भी केस सामने नहीं आया है. इसके साथ ही देश में कोरोना मरीजों की रिकवरी रेट 22.17 फ़ीसदी से अधिक हो गई है. इतना ही नहीं 24 घंटे में 381 मरीज ठीक हुए हैं. सबसे अच्छी बात यह है कि 85 जिलों में पिछले 14 दिनों से कोरोना का कोई केस नहीं आया है.
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में 1396 करोना के मामले सामने आए हैं. वर्तमान में देश में 27892 मामले कोरोना आये जिसमें 20835 लोग मेडिकल निगरानी में है. पिछले 1 दिन की बात करें तो 381 लोग ठीक हुए हैं. इस तरह से अब तक कुल 6184 लोग ठीक हुए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने संतोष जताया कि कोरोना के खिलाफ हमारा रिकवरी रेट 22.17 फीसदी है और इसमें सुधार हो रहा है.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध