न्यूज़

Corona Update: यूपी के गोरखपुर में कोरोना से पहली मौत

SIDDHARTH PANDEY

गोरखपुर. बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान 25 वर्षीय हसनैन अली की मृत्यु हो गई. केजीएमयू लखनऊ से कंफर्म रिपोर्ट आने के बाद यह पता चला कि हसनैन अली को कोरोना पॉजिटिव था. यह खबर सुनते ही गोरखपुर से बस्ती तक हड़कंप मच गया चुकी युवक बस्ती का ही रहने वाला था. उन सभी डॉक्टरों पैरामेडिकल स्टाफ और तीमारदारों को आइसोलेट कर दिया गया है जो युवक के संपर्क में आए थे.

गोरखपुर और बस्ती में यह युवक जिन जिन अन्य लोगों के संपर्क में आया था उनकी तलाश की जा रही है. आशंका है कि उसकी वजह से कई लोग संक्रमित हो सकते हैं. सोमवार की सुबह बीआरडी मेडिकल कॉलेज के आईसीयू में युवक की मौत हो गई. रविवार की रात उसके परिवारजनों ने सांस में तकलीफ की शिकायत पर पहले ट्रामा सेंटर भर्ती कराया था. जहां से मेडिसिन विभाग के वार्ड नंबर 14 में उसे शिफ्ट किया गया. रात में तबीयत ज्यादा बिगड़ी डॉक्टरों ने उसे कोरोना वार्ड में शिफ्ट कर दिया जहां सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई.

लखनऊ के मीडिया प्रभारी डॉ सुधीर सिंह के अनुसार गोरखपुर से जो सैंपल आया था वह जांच में पॉजिटिव मिला है युवक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट मैं मौत का कारण कोरोना बताया गया जिस रिपोर्ट को केजीएमयू दोबारा जांच के लिए भेजा गया था डॉक्टरों की टीम ने आनन-फानन में मरीज का नमूना लेकर जांच के लिए आर एम आर सी सेंटर भेजा था. युवक की मौत के बाद डाक्टरों ने शक के आधार पर उसके परिवारजनों से युवक की विदेश यात्रा और अन्य गतिविधियों के बारे में पूछताछ शुरू की तो परिवार जन कतराने लगे. इसके बाद उसके गले के लार के नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए मंगलवार को थ्रोट स्वाब की जांच में कोरोना के संकेत मिले थे. बुधवार सुबह केजीएमयू सूचना आई कि युवक को कोरोना था. जहां एक तरफ इस खबर से लोगों में हड़कंप मचा है वही प्रशासन की लापरवाही भी सामने आई है. यह युवक जिन जिन लोगों से मिला होगा संभवतः उनको संक्रमित किया होगा. बरहाल युवक के संपर्क में आए उन सभी लोगों की तलाश जारी है.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध