टॉप न्यूज़ बोल वचन खास

Budget 2020: क्या उम्मीदों की कसौटी पर खरा उतरेगा बज़ट, मोदी 2.0 का बजट आज, क्या होगा ख़ास

नयी दिल्ली. देश की जनता और मोदी सरकार 2.0 के लिए आज आज का दिन बहुत ही खास होने जा रहा है. कुछ ही घंटों बाद मोदी सरकार का बजट पेश होने जा रहा है. महंगाई, आर्थिक संकट, गिरती जीडीपी के बीच मोदी सरकार आज यानी शनिवार को अपने दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट लेकर आएगी. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बैग और उसमें रखे लाल बहीखाते पर पूरे देश की नजर है. पहला मौका है जब निर्मला सीतारमण पूर्ण बजट पेश करने जा रही हैं. माना जा रहा है कि अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बजट में कई कदमों का ऐलान तो होगा ही, करदाताओं को भी कुछ राहत मिल सकती है.

बज़ट पर इनकी रहेगी ख़ास नज़र

पिछले कुछ वर्षों से लगातार डगमगाती अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी की बढ़ती समस्या के बीच  वित्त मंत्री से देशवासियों को बड़ी उम्मीदें हैं. बजट पर  इस बार मिडिल क्लास, व्यापारियों, किसानों और छात्रों की खास नजर है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण सुबह 11 बजे लोकसभा में बजट को पेश करेंगी. यह आम बज़ट इसलिए भी ख़ास है क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी के दूसरे कार्यकाल का सबसे बड़ा सपना, हिंदुस्तान की इकॉनोमी को 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचाना जिसका ऐलान 15 अगस्त 2019 को देश के प्रधानमंत्री ने लाल किले से किया था और इसको पूरा करने के लिए साल 2025 की डेडलाइन फिक्स की थी. ऐसे में आज आने वाला बजट मोदी के दूसरे कार्यकाल के सपने का बड़ा आधार होगा. आम बजट से मात्र एकदिन पहले राष्ट्रपति कोविंद ने भी 5 ट्रिलियन डॉलर की बात कही है, ऐसे में सरकार की फ्यूचर प्लानिंग इस बजट में देखने को मिल सकती है. आम आदमी को टैक्स में क्या राहत मिलेगी यह देखना महत्वपूर्ण होगा. हर बार की तरह इस बार भी मसला मंदी में घटते राजस्व को बढ़ाने और आम आदमी को टैक्स घटाकर आमदनी बढ़ाने में मदद के बीच फंसा है. किसान, छोटे व्यापारी, सीनियर सीटिजन और देश की आधी आबादी यानी महिलाएं तमाम उम्मीदों के साथ बजट पर नजर गड़ाए हुए हैं.

सुबह 11 बजे खिलेगा उम्मीद का कमल

आज सुबह 11 बजे संसद में बजट का ये पिटारा खुलने वाला है. उम्मीद जताई जा रही है कि जुलाई 2019 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश किया तो इसमें कॉरपोरेट और बिजनेस जगत को राहत देने वाली कई घोषणाएं की गईं इसलिए इस बार बज़ट कुछ अलग होगा. पहले दो बार उपेक्ष‍ित रखे गए वर्ग यानी मिडल क्लास पर फोकस किया जाएगा.

तंग हाथ से खुलकर खर्च नही कर पाएंगी वित्त मंत्री

मौजूदा आर्थिक माहौल में वित्तमंत्री के हाथ खुलकर खर्च करने के लिहाज से तंग रह सकते हैं. देश को उम्मीद है कि बजट में ऐसे ऐलान जरूर किए जाएंगे, जिससे न सिर्फ रोजगार में इजाफा हो बल्कि लोगों की खरीदारी करने की क्षमता भी बढ़े.  होम लोन पर टैक्स छूट बढ़ा सकती है सरकार. सरकारी खजाने में टैक्स के जरिए आने वाली रकम में आई कमी के चलते राजकोषीय घाटा सरकार के बजट लक्ष्य से ज्यादा रहने के आसार लगाए जा रहे हैं. वित्तमंत्री के सामने इसी संतुलन को बनाए रखने की चुनौती है.

जनता की उम्मीद

देश की जनता को सरकार से बहुत उम्मीदें हैं मसलन

  • सरकार 5 लाख रुपये तक की आय को टैक्स फ्री कर सकती है.
  • बीते साल 5 लाख तक की आमदनी वालों को ही इस टैक्स से छूट दी गई थी.
  • जिसकी आमदनी 5 लाख से ज्यादा है उन्हें कोई रियायत नहीं मिली थी.
  • फिलहाल 2.50 से 5 लाख रुपये तक की आमदनी पर 5 फीसदी टैक्स लगता है.
  • 5 से 10 लाख रुपये पर 20 फीसदी.और 10 लाख रुपये से ज्यादा आमदनी पर 30 फीसदी की दर से टैक्स लगता है.
  • इसके अलावा 5 लाख रुपये तक की आमदनी वाले को 12,500 रुपये की छूट दी गई है यानी 5 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Follow us @ social media

Follow us @ Facebook

विविध