टॉप न्यूज़

स्कूल संचालकों से मिलने के बाद जिलाधिकारी ने अभिभावकों से की अपील, जानिये क्या बोले?

SURENDRA CHAUHAN

सहारनपुर. जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि की फीस माफी के सम्बंध में अभी तक शासन द्वारा कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है. अनलॉक के दौरान लोगों के कारोबार शुरू हो गए हैं. उन्होंने सरकारी व अर्द्ध सरकारी कर्मचारी व सक्षम अभिभावकों से अनुरोध किया कि वे विद्यालय में अपने बच्चों का मासिक आधार पर शुल्क जमा कराएं.

जिलाधिकारी अखिलेश सिंह आज यहां कलक्ट्रेट सभागार में प्रोग्रेसिव स्कूल्स सोसाइटी एवं
सहारनपुर सहोदय काम्पलैक्स के अनुरोध पर आहूत बैठक को सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हालांकि किसी भी बच्चे की फीस जमा न होने पर नाम काटने का प्रावधान नहीं है, लेकिन अभिभावक यदि इकट्ठी फीस जमा नहीं कर सकते तो मासिक आधार पर जमा करा दें ताकि स्कूलों को राहत मिल सके. बैठक में प्रोग्रेसिव स्कूल्स सोसाइटी के महासचिव सुधीर जोशी व संयोजक सुरेंद्र चौहान ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर बताया कि लॉकडाउन की अवधि में अधिकांश स्कूलों में अप्रैल, मई व जून माह की फीस जमा नहीं हुई है जिसके चलते स्कूलों के सामने आर्थिक संकट गहरा गया है तथा वे अपने स्टाफ का वेतन भी नहीं दे पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि शासन के आदेशानुसार विद्यालयों द्वारा ऑनलाईन शिक्षा दी जा रही है परंतु सोशल मीडिया पर भ्रामक प्रचार के चलते अभिभावक अपने बच्चों की फीस जमा नहीं कर रहे हैं.
बैठक को अपर जिलाधिकारी प्रशासन एस. बी. सिंह व जिला विद्यालय निरीक्षक डा. अरूण कुमार दुबे ने भी सम्बोधित किया.

इस दौरान आशा माडर्न इंटरनेशनल स्कूल के भव्य जैन, सैंट मैरी एकेडमी के फादर थार्सिस, रेनबो स्कूल
की डा. किरण पेसीन मिश्री, स्प्रिंग बैल्स की अलका कुमार, ब्राइट होम के मो.अहमद खान, पाइनवुड स्कूल के डा. संजीव जैन, गीता ज्ञान स्कूल के संजय गुप्ता, केएलजी के वाई. के. गुप्ता व नवीन गुप्ता, एल्पाइन स्कूल के शकील अहमद, डेलमोंड इंटरनेशनल के रंजन गुप्ता, दून वैली स्कूल के राजकिशोर गुप्ता आदि मौजूद रहे.

About the author

Prakash Pandey

Add Comment

Click here to post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.